HINDUISM AND SANATAN DHARMA

Hinduism,Cosmos ,Sanatan Dharma.Ancient Hinduism science.

ॐ, ohm , om

हर धर्म-पंथ-सम्प्रदाय मे ईश्वर का वास्तविक नाम ॐ है:-
1) ॐ ख़म ब्रह्म -अर्थात ॐ ही सर्वत्र व्याप्त परम ब्रह्म है:- यजुर्वेद 40/17

2) सिख पंथ :- एक ‘ओंकार’, सतनाम ..! अर्थात एक मात्र ॐ स्वरुप परमात्मा है; उसका नाम ही सत्य है।

3) बौद्ध पंथ :- इसे “ओं मणिपद्मे हूं” कह कर प्रयोग करते हैं, जिसे आप स्वयं धर्मगुरु दलाई लामा से समझिये, देखें वीडियो :
4) जैन पंथ में भी इस शब्द ॐ का महत्व है, वीडियो देखिये :


5) “तस्य वाचक प्रणवः ” :- उस ईश्वर नामक चेतन तत्व विशेष के अस्तित्व का बोध करने वाला शब्द ध्वन्यात्मक ॐ है :- महर्षि पतंजलि समाधिपाद 27 वें सूत्र ।

इसी तरह भारत के अनेक संत महात्माओं ने भी ॐ के ध्वन्यात्मक स्वरुप (Sound vibrations) को ही ब्रह्म माना है तथा ॐ को” शब्द ब्रह्म” भी कहा है ।

6) अब्राह्मिक पंथ (यहूदी-ईसाई और इस्लाम) में हिन्दुस्तानी धर्म-सम्प्रदाय की तरह दर्शन-अध्यात्म-वेदांतज्ञान का अभाव है ! फिर भी उदाहरण के लिए अगर हिन्दू अपने सब मन्त्रों और भजनों में ॐ को शामिल करते हैं तो ईसाई और यहूदी भी इसके जैसे ही एक शब्द “आमेन” का प्रयोग धार्मिक सहमति दिखाने के लिए करते हैं । मुस्लिम इसको “आमीन” कह कर याद करते हैं ।

अंग्रेजी का शब्द “omni”, जिसके अर्थ अनंत और कभी ख़त्म न होने वाले तत्त्वों पर लगाए जाते हैं (जैसे omnipresent, omnipotent), भी वास्तव में इस ॐ शब्द से ही बना है ।

7) NASA ने सूर्य की जो ध्वनि रिकॉर्ड किया है, वह भी ॐ ही है, जिसे खुद ‪NASA‬ ने ‘शब्द ब्रह्म’ प्रमाणित किया । देखें वीडियो

————————————————————————–

यह तो हुए ॐ शब्द के धार्मिक पहलू अब आपको बताएं की ॐ का उच्चारण करने से जो आनंद और शान्ति अनुभव होती है, वैसी शान्ति किसी और शब्द के उच्चारण से नहीं आती । यही कारण है कि सब जगह बहुत लोकप्रिय होने वाली योग-प्राणायाम की कक्षाओं में ओ३म के उच्चारण का बहुत महत्त्व है । अपनी आँखें बंद कर 10 बार ॐ का उच्चारण करके देखिये, खुद समझ जायेंगे ।

ॐ किसी ना किसी रूप में सभी मुख्य संस्कृतियों का प्रमुख भाग है । इतने से यह सिद्ध है कि ॐ किसी मत, मजहब या सम्प्रदाय से न होकर पूरी इंसानियत का है । Aum‬ के अन्दर ऐसी कोई बात नहीं है कि किसी के भगवान्/Jesus/अल्लाह का अनादर हो जाये ।

फिर आज से हम सब प्राण लें की — अपने हर काम की शुरुआत इस पवित्र शब्द ॐ के उच्चारण के साथ करेंगे !

Dr. Alam ॐ ॐ ॐ ॐ

Advertisements

One comment on “ॐ, ohm , om

  1. Reblogged this on Voice of world.

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Information

This entry was posted on April 11, 2016 by in HINDUISM SCIENCE, OM, science of om and tagged , , , .

Blogs I Follow

I'm just starting out; leave me a comment or a like :)

Follow HINDUISM AND SANATAN DHARMA on WordPress.com

Follow me on Twitter

type="text/javascript" data-cfasync="false" /*/* */
%d bloggers like this: